शुक्रवार, 20 मार्च 2020

कोरोना: देश और समाज के प्रति क्या है आपकी जिम्मेदारी

कोरोना😡 मनुष्यों से मनुष्यों में आसानी से त्वरित फैलने वाली 1 महामारी ✅✅

ये कोई मज़ाक नही है 😡

ऐसी महामारी जिसके लक्षण
पता भी नही चलते 4 5दिन तक।😯

आपको लगता है कि आपको आम सर्दी जुकाम है
कभी कभी वो भी दिखाई नही देता

और वायरस बड़ी आसानी से आपके शरीर को अपना घर बना लेते हैं

सोचिये आपके शरीर मे वायरस है और आपके छींकने खांसने से किसी व्यक्ति के सम्पर्क में आता है अगर वो आपसे मिलने के बाद अपने हाथ पैर मुंह साबुन से धो ले उसे वायरस का कोई खतरा नही होता।
👏🏻👏🏻👏🏻👏🏻 तो
बार बार हाथ धोने वालो का मज़ाक बनाना बंद कर सफाई रखें ये कभी भी कहीं भी किसी को भी अपनी चपेट में ले सकता है।🙏🏻

अगर आपको सर्दी जुकाम है तो कुछ दिन घर मे रहें बच्चों को भी घर मे रहने की हिदायत दें। कुछ परिजन बच्चों के प्रति बहुत लापरवाह हैं 🤷🏻‍♀
स्कूल की छुट्टियां दिनभर उन्हें बाहर खेलने देंने के लिए नही लगी हैं। बच्चे 1 दूसरे के सम्पर्क में न आये इसलिए दी गई है। और आपके बच्चे पूरा दिन बाहर खेल रहे आपको कोई लेना देना नही है वो कहा किसके  साथ खेल रहे हैं। बच्चों और बुज़ुर्गों को घर मे रखें ऐसा न हो कि बाद में पछताते रह जाएं

सरकार पागल नही है जो बाहर से आये लोगो की जांच कर उन्हें 14 दिन निगरानी में रख रही है वायरस के लक्षण दिखाई नही देते आसानी से पर वो किसी में भी हो सकता है🙏🏻

सर्दी जुकाम वाले बाहर न जाएं बहुत जरूरी हो जाना तो मास्क पहन कर जाए ताकि आपसे किसी अन्य को संक्रमण का खतरा न हो

बाहर से लाये सब्जी फलो को  गरम पानी से धोये बिना उपयोग में न ले

दरवाजो के हैंडल धातु, सार्वजनिक स्थानों के स्टील फर्नीचर मंगवाए गए पार्सल नोट लेटर आदि को छूने के बाद बिना हाथ धोये उन हाथो को चेहरे या मुह पर न लगाएं ये संक्रमण फैला सकते हैं बार बार बालों और चेहरे को हाथ लगाना आपकी आदत में शुमार हो तो फिलहाल इससे बचें और विशेष ध्यान रखें कि बच्चे भी बिना हाथ धोये अपने हाथ मुंह और नाक के संपर्क में न लायें
बाहर जाकर आएं अगर खासकर अस्पताल या किसी सरकारी दफ्तर या बैंक से तो आते ही कपड़े बदलें उन कपड़ों को गर्म पानी मे डालकर धोएं।

थोड़े दिन के लिए अतिथि देवोभवः भूल जाएं मेहमानों को आमंत्रित न करे न ही किसी आयोजन में जाये सिर्फ 30 दिन की बात है 1 बार हम 3rd स्टेज से बाहर आ गए तो खूब जश्न मना लीजियेगा कोई आपके यह आता भी है तो उससे 1 मीटर की दूरी बना कर ही बातचीत करें कुछ भी खाएं बनाएं या खिलाये पिलाएँ हाथो को साफ पानी साबुन से धोकर ही।

सेनिटाइजर ओर मास्क को मज़ाक न बनाएं ये दिखावे की वस्तु हैं ऐसा समझने की भूल बिल्कुल न करे जहा आप साबुन से हाथ नही धो सकते वहां सेनिटाइजर का इस्तेमाल करें मगर घर आने के बाद साबुन पानी से हाथ जरूर धो ले
हो सके तो अपने घर मे भी सेनिटाइजर का छिड़काव करें सरकार पर आश्रित न रहे बचाव ही तो असली इलाज है।
ये भी न सोचें कि मरना तो है ही एक दिन। या हमे कुछ नही होगा ये सब भ्रांतियां है। सबसे बड़ी भ्रांति कि लहसुन और अल्कोहल के सेवन से आप इससे बच सकते हैं ऐसी बातों में आकर जान से न खेलें



भारत के अस्पतालों में इतनी सुविधाएँ नहीं है कि इतने लोगों को एकसाथ isolation में रखा जा सके। सेल्फ आइसोलशन अपनाएं। जिन्हें बाहर बहुत जरूरी काम न हों वे घर पर रहें सेफ रहें।🙏🏻 हम सह प्रयास से अभी कोरोना को रोक सकते हैं 1 बार हमारे ग्रामीण इलाकों में अगर ये फैल गया तो किसी के लिए भी इसे रोकना मुमकिन नही होगा। ग्रामीणों को जागरूक करें अपनी सामाजिक जिम्मेदारी निभाएं🙏🏻



 भारत को अग्रणी बनाने और नाम रोशन करने का यही तरीका है दुनिया मे। जब लोग कहेंगे बड़े बड़े देश जिस बीमारी को फैलने से न रोक पाए भारत के नागरिकों ने कर दिखाया👏🏻👏🏻👏🏻👏🏻👏🏻👌🏻👌🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻



रविवार के दिन जनता कर्फ्यू को समर्थन दे 1 दिन आपके बाहर न जाने से कुछ नही बिगड़ जाएगा। अच्छा है इस बहाने व्यस्त जीवन से आप एक दिन अपने परिवार के लिए निकाल कर छुट्टी ले रहे हैं यही सोच कर घर रह जाएं वाकई हम 80 प्रतिशत खतरे को कम कर देंगे अगर हम एक दूसरे के सम्पर्क में आने से बचे तो वायरस फैलने के बजाय नष्ट हो जायेगा। उसका चक्र टूट जायेगा। सहयोग करे सुरक्षित रहे🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻
Dj🖋

1 टिप्पणी: