बुधवार, 4 मार्च 2015

"मेरे पापा"

कविताएँ - हिन्दी ब्लॉग  जगत के  सभी महानुभावों को सादर प्रणाम! dj के (मेरे)  शब्दकोष  में कविताओं का मतलब है तुकबंदी और भावनाओं का मिश्रण। बस इससे अधिक  कुछ नहीं जानती हूँ कविता रचने के विषय  में। फिर भी कभी-कभी कविता लेखन का दुःसाहस कर ही लेती हूँ। क्या करूँ लिखने के मोह से खुद को वंचित नहीं रख पाती। 
इसलिए  किसी भी तकनीकि/शिल्पगत त्रुटि के लिए क्षमा चाहूंगी। जो मेरे मन की उपज है बस वही आपके  समक्ष रख रही हूँ। आपके सुझावों के ज़रिये मार्गदर्शन सविनय आमंत्रित है। 


ब्लॉग पर मेरी पहली कविता है  और मेरी और से मेरे पापा को समर्पित। दुनिया के सर्वश्रेष्ठ  पिता  हैं ,वो  मेरे लिए।पिता से नज़दीकी का एहसास अधिकतर बेटियों को शादी के पश्चात्  होता है। उनसे दूरी बहुत सालती है। बचपन  से शादी  तक मेरे, मेरे पिता से रिश्ते और उनके साथ  के अनुभव पर आधारित मेरी  इक पाती…………dj 
मेरे पापा 

पापा हैं वो .……… 
जो मुझे गुड़िया रानी कहकर बुलाते थे,

मेरी राजकुमारी कहकर प्यार से गोदी में उठाते थे,
मेरे होठों की हँसी में छिपे दर्द को भी भाँप जाते थे,
पापा हैं वो........ 
जो मुझे गुड़िया रानी कहकर बुलाते थे। 

हाथ पकड़ मुझे 'अ' 'आ' लिखना सिखाते थे,
उंगली थामकर मुझे 'बस-स्टॉप' तक छोड़ने जाते थे,
पापा हैं वो .……… 
जो मुझे गुड़िया रानी कहकर बुलाते थे। 

पुरूस्कार मिलने पर प्यार से गले लगाते थे,
'रिज़ल्ट' मेरा आता और ख़ुद, खुशी से झूम जाते थे,
मेरे पापा हैं वो .……… 
जो मुझे गुड़िया रानी कहकर बुलाते थे।

बचपन में मुझे कहानियाँ और गीत सुनते थे,
पर कितनी लाड़ली हूँ उनकी, ये कहकर कभी न जताते थे,
पापा हैं वो .……… 
जो मुझे गुड़िया रानी कहकर बुलाते थे।

मेरे 'मन' की बिना कहे जान जाते थे,
हर मुसीबत में ढाल मेरी बन जाते थे,
पापा हैं वो .………
जो मुझे गुड़िया रानी कहकर बुलाते थे,

सही-ग़लत/अच्छे-बुरे हर फ़ैसले में मेरा साथ निभाते  थे,
और मेरी आँखों में आँसू का इक क़तरा भी वो देख न पाते थे,
मेरे पापा हैं वो .……… 
जो मुझे गुड़िया रानी कहकर बुलाते थे।

हर मुसीबत में तो उनके आँसू आँखों में थम जाते थे,
पर 'बेटी' की विदाई पर न चाहकर भी छलक ही आते थे,
क्योंकि पापा हैं वो .……… 
जो मुझे गुड़िया रानी कहकर बुलाते थे।

dedicated to my पापा 
with lots of लव and रिस्पेक्ट
(स्वरचित) dj  कॉपीराईट © 1999 – 2015 Google


इस ब्लॉग के अंतर्गत लिखित/प्रकाशित सभी सामग्रियों के सर्वाधिकार सुरक्षित हैं। किसी भी लेख/कविता को कहीं और प्रयोग करने के लिए लेखक की अनुमति आवश्यक है। आप लेखक के नाम का प्रयोग किये बिना इसे कहीं भी प्रकाशित नहीं कर सकते। dj  कॉपीराईट © 1999 – 2015 Google
मेरे द्वारा इस ब्लॉग पर लिखित/प्रकाशित सभी सामग्री मेरी कल्पना पर आधारित है। आसपास के वातावरण और घटनाओं से प्रेरणा लेकर लिखी गई हैं। इनका किसी अन्य से साम्य एक संयोग मात्र ही हो सकता है।
ब्लॉग पर प्रकाशित मेरी पहली कविता।कृपया टिप्पणियों के माध्यम से मार्गदर्शन, ज्ञानवर्धन और उत्साहवर्धन अवश्य करें।
और अन्य ब्लॉग की link http://lekhaniblogdj.blogspot.in/

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें